All Jharkhand Competitive Exam JSSC, JPSC, Current Affairs, SSC CGL, K-12, NEET-Medical (Botany+Zoology), CSIR-NET(Life Science)

Saturday, May 22, 2021

Kishan Janjati Ka Samanya Parichay (किसान जनजाति का सामान्य परिचय)

Kishan Janjati Ka Samanya Parichay

➧ किसान जनजाति सदनों की एक जनजाति है जिन्हें नगेश्वर/नगेशिया भी कहा जाता है 

➧ यह जनजाति स्वयं को नागवंश का वंशज मानती है 

किसान जनजाति का सामान्य परिचय

 
➧ डाल्टन ने इन्हें पांडवों का वंशज बताया है 

➧ इस जनजाति का संबंध द्रविड़ समूह से है

 इस जनजाति की भाषा मुंडारी (ऑस्ट्रो-एशियाटिक) है 

➧ इनका संकेंद्रण मुख्यत: पलामू, लातेहार, गढ़वा, लोहरदगा, गुमला और सिमडेगा जिले में है में है

➧ समाज एवं संस्कृति

➧ विवाह की दृष्टि से इस जनजाति को 2 वर्ग हैं:- सिंदुरिया तथा तेलिया 

➧ सिंदुरिया लोगों का विवाह सिंदूरदान से होता है जबकि तेलिया लोगों के विवाह में तेल का प्रयोग करते हैं 

➧ इस जनजाति में परीक्षा विवाह का प्रचलन है

➧ इस जनजाति में वधू मूल्य को 'डाली' कहा जाता है

 इनका प्रमुख त्योहार सोहराई, सरहुल, कर्मा, नवाखानी, जितिया, फगुन, दीपावली आदि है 

➧ आर्थिक व्यवस्था 

➧ इस जनजाति के लोगों का प्रमुख पेशा कृषि कार्य तथा लकड़ी काटना है

➧ धार्मिक व्यवस्था 

➧ इनके सर्व प्रमुख देवता सिंगबोंगा है

 इनका धार्मिक प्रधान वेगा कहलाता है

👉 Previous Page:बंजारा जनजाति का सामान्य परिचय

                                                                                   👉 Next Page:बथुड़ी जनजाति का सामान्य परिचय

Share:

0 comments:

Post a Comment

Unordered List

Search This Blog

Powered by Blogger.

About Me

My photo
Education Marks Proper Humanity.

Text Widget

Featured Posts

Popular Posts

Blog Archive