All Jharkhand Competitive Exam JSSC, JPSC, Current Affairs, SSC CGL, K-12, NEET-Medical (Botany+Zoology), CSIR-NET(Life Science)

Sunday, April 4, 2021

Jharkhand Ki Pramukh Yojnaye Part-1 (झारखण्ड की प्रमुख योजनाएं)

Jharkhand Ki Pramukh Yojnaye Part-1

(झारखण्ड की प्रमुख योजनाएं)


शिक्षा से संबंधित योजनाएं 

1) मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृति योजना (2020-21) 

इसका आरंभ 2020-21 में किया गया है।

➤इस योजना के तहत सभी सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत कक्षा 1 से 12 तक के सभी छात्रों को छात्रवृति प्रदान किया जायेगा

➤इस योजना हेतु बजट 2020-21 में 30 करोड़ का प्रावधान किया गया 

2) साक्षर झारखंड अभियान (2019-20) :- 

➤इसका आरंभ 2019-20 में किया गया है। 

इसके तहत राज्य के 5 जिलों (सरायकेला-खरसावां, खूंटी, सिमडेगा, जामताड़ा ,पूर्वी सिंहभूम)  में निरक्षरों को साक्षर बनाने हेतु कार्यक्रम चलाया गया

यह 5 जिले साक्षर भारत अभियान में शामिल नहीं थे

3) विद्यालय चले, चलाये अभियान (2019)

इस योजना का आरंभ 10- 30 जून 2019 को किया गया

इसका उद्देश्य विद्यालयों में ड्रॉपआउट दर को शून्य तक लाने का लक्ष्य है

4) पंख योजना (2017)

इसका आरंभ  06 दिसंबर, 2017 को किया गया 

इसका उद्देश्य 'शहरी मलिन बस्तियों के बच्चों को विद्यालय से जोड़ना' है

5) ज्ञानोदय योजना (2017)

इसका आरंभ 12 सितंबर, 2017 को किया गया 

इस योजना के तहत विद्यालय के शिक्षकों को मुफ्त टेबलेट वितरण किया गया है

योजना का संचालन स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा किया जा रहा है

इस योजना का उद्देश्य स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है

6) मुख्यमंत्री शैक्षिक भ्रमण (2017)

इस योजना का प्रारंभ 2017 में किया गया

इस योजना के तहत कक्षा 6 से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों को सरकार द्वारा देश के दर्शनीय, धार्मिक एवं पर्यट स्थलों का भ्रमण कराया जाना है

योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों को बेंगलुरु, मैसूर, मुंबई एवं दार्जिलिंग आदि शहरों का भ्रमण कराना है

इसके तहत भ्रमण कार्यक्रम की अवधि न्यूनतम 4 दिन और अधिकतम 6 दिन है

7) मुख्यमंत्री विद्या लक्ष्मी योजना (2015) 

इसकी शुरुआत 15 नवंबर, 2015 को की गई

इसका उद्देश्य उच्च प्राथमिक स्तर (कक्षा छह से आठ) में पढ़ने वाले बालिकाओं का ड्रॉपरेट रोकना है

इसके तहत सरकारी विद्यालयों की कक्षा-6 में एडमिशन लेने वाली SC, ST लड़कियों के नाम पर बैंक में एक सावधी  जमा खाता खोला जाता है, और उसमें राज्य सरकार ₹2000 जमा करती है, जिसे  9वीं   कक्षा में नामांकन के उपरांत लड़कियां ब्याज-सहित निकासी कर सकती है

यह योजना झारखंड के सभी जिलों में लागू है

8) प्राथमिक मध्य एवं उच्च विद्यालय में छात्रवृत्ति योजना (2010)

इसका प्रारंभ 2010 को किया गया

इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ी जाति के विद्यार्थियों को मैट्रिक पूर्व स्तर तक छात्रवृत्ति प्रदान किया जायेगा 

9) एकलव्य विद्यालय (2006)

इसका आरंभ 2006 में किया गया 

इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जनजातियों के बच्चों को निशुल्क एवं आवासीय प्राथमिक शिक्षा प्रदान करना है  

10) पहाड़िया जनजाति के छात्रों हेतु मध्यान भोजन (2003)

इस योजना का प्रारंभ 2003 में किया गया

इस योजना का उद्देश्य पहाड़िया जनजाति में शिक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करना है 

11) अंबेडकर तकनीकी छात्रवृत्ति  योजना (2003)

इस योजना का आरंभ 2003 में किया गया

इस योजना के तहत राज्य से बाहर तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर रहे अनुसूचित जाति के छात्र-छात्राओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना है

12) परीक्षा शुल्क प्रतिपूर्ति (2002)

इस योजना का आरंभ 2002 में किया गया

इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को परीक्षा शुल्क माफ करना था 

13) कल्याण विभाग के आवासीय विद्यालय (2002)

इस योजना का आरंभ 2002 में किया गया

इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जनजाति तथा पिछड़ा वर्ग की छात्राओं को निशुल्क तथा आवासीय  शिक्षा प्रदान करना है 

14) पोषक आपूर्ति योजना (2002)

इस योजना का आरंभ 2002 में किया गया

इस योजना के तहत सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति की छात्राओं को मुक्त पोषक प्रदान करना है

15)साइकिल वितरण योजना (2002)

इस योजना का आरंभ 2002 में किया गया

इस योजना का उद्देश्य अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक समुदाय तथा गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे परिवार की छात्राओं को विद्यालय जाने हेतु प्रोत्साहित करना है 

16) अनुसूचित जनजाति के छात्रों हेतु यूनिवर्सिटी पॉलिटेक्निक (2002)

इस योजना का आरंभ 2002 में किया गया

इस योजना के तहत बी0 आई0 टी0 मेसरा में अनुसूचित जनजाति के छात्रों हेतु यूनिवर्सिटी पॉलिटेक्निक का संचालन किया जाता है

इसके तहत 5% सीटें आदिम जनजाति के विद्यार्थियों हेतु आरक्षित है

17) आवासीय विद्यालयों  में प्रयोगशाला एवं स्थापना एवं सुदृढ़ीकरण  योजना (2001)

इस योजना का आरंभ 2001 में किया गया

इस योजना के अंतर्गत आवासीय उच्च विद्यालयों में विज्ञान की व्यवहारिक शिक्षा प्रदान की जाती है

18) बिरसा मुंडा तकनीकी छात्रवृत्ति योजना (2001)

इस योजनाका आरंभ 2001 में किया गया

इस योजना के अंतर्गत राज्य से बाहर तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर रहें अनुसूचित जनजाति के छात्र- छात्राओं को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है 

                                                                                                                                                                                            👉Jharkhand Ki Pramukh Yojnaye Part-2
Share:

0 comments:

Post a Comment

Unordered List

Search This Blog

Powered by Blogger.

About Me

My photo
Education Marks Proper Humanity.

Text Widget

Featured Posts

Popular Posts

Blog Archive